7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों को राहत देने की तैयारी, महंगाई भत्ते में होगी बढ़ोतरी!
Like and Share
90 Views

DA Hike Update News: केंद्र सरकार के कर्मचारियों को 1 जुलाई, 2022 से इस वर्ष के लिए महंगाई भत्ते के दूसरे चरण की बढ़ोतरी का इंतजार है. माना जा रहा है कि 1 जुलाई, 2022 से केंद्रीय कर्मचारियों के लिए बड़े तोहफे का ऐलान हो सकता है.

देश में बढ़ती महंगाई, महंगी हो रही ईएमआई के मद्देनजर केंद्र सरकार केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में बड़ी बढ़ोतरी करने वाली है. 1 जुलाई 2022 से केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में बड़ा इजाफा किया जा सकता है.

पहले माना जा रहा था कि महंगाई भत्ते में 4 फीसदी की बढ़ोतरी की जाएगी. लेकिन हाल ही में ऑल इंडिया कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स फॉर इंडस्ट्रियल वर्कर्स का जो डाटा आया है

उसके बाद ये उम्मीद जताई जा रही महंगाई भत्ते को 4 फीसदी से लेकर 5 फीसदी तक बढ़ाई जा सकती है.

मौजूदा समय में केंद्रीय कर्मचारियों को 34 फीसदी महंगाई भत्ता मिलता है. पहले इसे बढ़ाकर 38 फीसदी किए जाने की उम्मीद थी. लेकिन अब माना जा रहा है कि महंगाई भत्ते में 5 फीसदी की बढ़ोतरी की जाएगी.

ये अप्रैल महीने के लिए ऑल इंडिया कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स (All-India Consumer Price Index) के डाटा के मद्देनजर अनुमान लगाया जा रहा है.

देश में बढ़ती महंगाई (Inflation) को देखते हुए ये अनुमान लगाया जा रहा है कि जुलाई महीने में सरकार महंगाई भत्ते (DA) में बढ़ोतरी करने का मन बना रही है. ऐसा हुआ तो केंद्रीय कर्मचारियों के वेतन (Salary) में जबरदस्त इजाफा संभव है.

केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते को 34 फीसदी से बढ़ाकर 39 फीसदी किया गया तो इससे केंद्रीय कर्मचारियों के वेतन में 8,000 रुपये से लेकर 27,000 रुपये तक की बढ़ोतरी हो सकती है.

आंकड़ों के मुताबिक केंद्र सरकार के इस फैसले का असर 47 लाख कर्मचारियों और 68 लाख पेंशनभोगियों को होगा. कमरतोड़ महंगाई के साथ ईएमआई भी महंगी हो रही है ऐसे में महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी केंद्रीय कर्मचारियों को बड़ी राहत दे सकती है.

सामान्य तौर पर महंगाई भत्ता पहली जनवरी और पहली जुलाई से बढ़ाए जाने का ट्रेंड रहा है, ऐसे में जुलाई महीने में केंद्रीय कर्मियों को खुशियों की सौगात मिल सकती है.

बता दें केंद्र सरकार साल में दो बार जनवरी और जुलाई माह के दौरान खुदरा महंगाई आंकड़ों के आधार पर डीए (DA) और डीआर (DR) में संशोधन करती है. देश में महंगाई आरबीआई के अनुमान से ऊपर जा पहुंचा है.

खुदरा महंगाई दर आरबीआई के टोलरेंस लेवल 6 फीसदी से ऊपर चला गया है. खुदरा महंगाई की दर अप्रैल में बढ़कर 7.79 फीसदी रहा है जो मार्च में 6.95 फीसदी था.

ये भी पढ़ें

Tax Collection: आर्थिक गतिविधि में तेजी का असर, 2022-23 में टैक्स वसूली में 45 फीसदी का आया उछाल

HDFC Bank Hikes FD Rates: एफडी पर अब मिलेगा ज्यादा ब्याज, HDFC Bank ने बढ़ाई ब्याज दरें

Source by [author_name]