Bihar Police ने वकील को नकली दस्तावेज से जमानत करवाने के प्रयास में गिरफ्तार किया | Best Crime News 2022 
Like and Share
Bihar Police ने वकील को नकली दस्तावेज से जमानत करवाने के प्रयास में गिरफ्तार किया | Best Crime News 2022 
278 Views

Bihar Police – बिहार के बांका में फर्जी जमानत पत्र दस्तावेज के जरिए आरोपी को छुड़ाने का मामला सामने आया है। पुलिस के अनुसार एक वकील व एक अन्य व्यक्ति और एक आरोपी की जमानत लेने यहां पहुंचे थे। पुलिस को जब जमानत पर्ची पेश की गई तो उन्हें इस पर कुछ शक हुआ।

Bihar Police – पुलिस ने Jamanat की पर्ची की जांच की तो पता चला कि यह पर्ची फर्जी है। इसके बाद Police ने एक अन्य व्यक्ति के साथ-साथ Lawyer को भी गिरफ्तार कर लिया।

Bihar Police – सूत्रों द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार दो साल पहले बांका थाने में यह मामला दर्ज किया गया था। इस मामले में 8 आरोपियों को जाली दस्तावेज के आधार पर जमानत देने का झांसा दिया गया था, BUT जाली कागजात के आधार पर रिहा हुए शीलधर यादव को बीती रात बांका पुलिस ने Arrest कर लिया।

Bihar Police Hindi News – सोमवार के दिन को जब उनके रिश्तेदार पंचू यादव व वकील विकास साह को शीलधर यादव की Arrest की जानकारी हुई तो वह बांका थाने गए. और उन्होंने थाना प्रभारी Officer को जमानत पर्ची दिखाई।


Read Me –

“Income Tax News In Hindi || Best Important Law Notes 2022”


Bihar Police – जल्दी कार्य होने पर पुलिस को जमानत पत्र पर शक हुआ। Police ने उस पेपर को चेक किया था। Police  जांच में जमानत पर्ची फर्जी निकली। इस कार्य पर पुलिस ने तुरंत दोनों को Arrest कर लिया। पुलिस के अनुसार गिरफ्तार Lawyer पहले भी इस तरह की हरकत कर चुका है।

Bihar Police – इससे पहले लॉयर को चेतावनी मिली थी। वह किसी भी आरोपी की Jamanat का ठेका लिया और उसने फर्जी जमानत तैयार कर Court से जमानत ली।

Bihar Police – बांका Station के एएसआई आलोक कुमार के कथन के आधार पर दोनों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. और इस मामले में आरोपी लॉयर ने दावा किया कि यह जमानत पर्ची किसी और की है, यह उसकी नहीं।

Bihar Police – वहीं इस मामले को लेकर एसएचओ शंभू यादव ने कहा कि झूठी JAMANAT के आधार पर आरोपी को रिहा करना एक आपराधिक कृत्य है और इस मामले की जांच की जा रही है. दोनों को जल्द से जल्द जेल भेज दिया जाएगा।