Jodhpur Clash – ईद से पहले जोधपुर में कैसे भड़की हिँसा, जानें घटनाक्रम का लेखा जोखा | Strong News 2022 
Like and Share
Jodhpur Clash – ईद से पहले जोधपुर में कैसे भड़की हिँसा, जानें घटनाक्रम का लेखा जोखा | Strong News 2022 
324 Views

Jodhpur Violence in Hindi – ईद से कुछ समय घंटे पहले राजस्थान के जोधपुर City में सोमवार देर रात सांप्रदायिक तनाव पैदा हो गया और इस खबर दौरान पथराव में 5 पुलिसकर्मी घायल हो गए. पुलिस ने इसकी सभी आला अधिकारियों को Information दी। 

Jodhpur Violence in Hindi – Police बल की तैनाती से हालात पर काबू बमुश्किल पा लिया गया है। BUT  मंगलवार को ईद की नमाज के बाद तनाव फिर बढ़ गया है। और Police ने बताया कि कुछ अज्ञात लोगों ने जालोरी गेट के पास के क्षेत्र में पथराव किया है। जिसमें कुछ वाहन क्षतिग्रस्त व आग लगने से नस्ट हो गए.

Jodhpur मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का गृहनगर है, उन्होंने सभी लोगों से शांति व सद्भाव बनाए रखने की अपील की है. मिली Information के अनुसार इस विवाद का समय प्रथम दृष्ट्या सोमवार आधी रात के बाद हुई है। जब बहुल अल्पसंख्यक समुदाय के कुछ सदस्य ईद ( Eid ) के मौके पर जालोरी गेट के पास एक नगर चौराहे पर धार्मिक झंडे लगा रहे थे.

Jodhpur Violence – सूत्रों द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार – कि मुस्लिम समुदाय के कुछ लोगों ने चौराहे में स्थापित स्वतंत्रता सेनानी बालमुकुंद बिस्सा की प्रतिमा पर झंडा लगाया था। और जिसका हिंदू समुदाय के लोगों ने भारी विरोध किया.


Read Me –

CRPC Section 433 (2) Saja Me Chhoot Ke Sambandh Me | सुप्रीम कोर्ट को पर्याप्त कारण बताना होगा | Best Law Advice 2022


Jodhpur Hinsa – हिन्दू समुदाय के लोगो ने आरोप लगाया कि वहां परशुराम जयंती पर लगाए गए भगवा ध्वज को हटाकर अपना इस्लामी ध्वज लगा दिया, और इस बात को लेकर दोनों समुदाय के लोग आमने सामने आ गए और फिर वहाँ झड़प हो गई.

Jodhpur News – पुलिस नियंत्रण कक्ष के तहत बेहद नाजुक स्थिति को नियंत्रित करने के लिए Police बल मौके पर पहुंची BUT पथराव में 5 पुलिसकर्मी घायल हो गए. Police ने जमा भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले दागे. इस बढ़ते विवाद को देखते हुए व अफवाहों को फैलने से रोकने के लिए क्षेत्र में Mobile इंटरनेट सेवाएं भी बंद कर दी गई हैं.

Jodhpur News – हालात किसी प्रकार काबू में कर लिए गए है। BUT  मंगलवार सुबह जालोरी गेट के पास ईदगाह पर Eid की नमाज अदा की गई. नमाज के बाद फिर से तनाव बढ़ गया तथा उस क्षेत्र में पथराव हो गया और जिसमें कुछ वाहन जलकर क्षतिग्रस्त हो गए.

मुख्यमंत्री ने की शांति बनाए रखने की नसीहत  

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने घटना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है. अशोक गहलोत जी ने मंगलवार Morning Time में ट्वीट किया, Jodhpur के जालोरी गेट के निकट दो गुटों में आपस में झड़प से तनाव पैदा होना यह घटना दुर्भाग्यपूर्ण है.

प्रशासन को हर किसी कीमत पर शांति एवं व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश जारी कर दिए हैं. अशोक गहलोत जी ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील करते हुए कहा, Jodhpur  मारवाड़ की प्रेम एवं भाईचारे की पुरानी परंपरा का सम्मान करते हुए मैं सभी धार्मिक पक्षों से मार्मिक अपील करता हूं कि सभी लोग शांति बनाए रखें और कानून-व्यवस्था बनाने में हमारा सहयोग करें।

जयपुर में एक प्रवक्ता जानकर ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी लगातार पूरी स्थिति की निगरानी कर रहे हैं, जिला प्रशासन को सभी दिशा निर्देश दे रहे हैं. उन्होंने हमें बताया कि मंगलवार को मुख्यमंत्री गहलोत जी का जन्मदिन भी है BUT  इस ताजा घटनाक्रम के देखते हुए उन्होंने Jodhpur के लोगों से अपील की है कि वह सब उन्हें शुभकामना के संदेश भेज दें, BUT  शुभकामना देने मुख्यमंत्री जी के निवास न आएं.

प्रवक्ता की जानकारी के अनुसार गहलोत जी ने अभी मुलाकात के सारे कार्यक्रम निरस्त कर दिए हैं और Jodhpur  मामले पर आवश्यक बैठक के लिए कार्यालय (CMO) पहुंच रहे हैं. Jodhpur में भाजपा विधायक सूर्यकांता व्यास ने स्वतंत्रता सेनानी की मूर्ति पर इस्लामी झण्डा लगाने पर आपत्ति जताई. और अपने समर्थकों के साथ सभी मौजूद व्यास कहा,

उन्होंने बालमुकुंद बिस्सा जी की प्रतिमा पर (झंडा लगाया) तथा  हमें इस पर बहुत कड़ी आपत्ति है. हम इस बात को  नहीं भूलेंगे.’ भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश Puniya ने कहा कि स्वतंत्रता सेनानी बालमुकुंद बिस्सा की मूर्ति पर इस्लामिक ध्वज लगाने की निंदा की.

उन्होंने इस पर ट्वीट किया,’स्वतंत्रता सेनानी बालमुकुंद बिस्सा जी की मूर्ति पर अराजक तत्वों द्वारा इस्लामिक ध्वज  लगाना और  परशुराम जयंती पर लगे केसरिया ध्वज हटाना निंदनीय है.’ Puniya ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील करते हुए कहा,’

Jodhpur – आप सभी से इस प्रकार निवेदन है कि आप सभी शांति बनाए रखें. राज्य सरकार से डिमांड है कि इन सभी अराजक तत्वों पर कड़ी कार्रवाई हो, और राज्य में पूर्व प्रकार से कानून का राज स्थापित हो.’

ये भी पढ़ें- Jodhpur Communal Clash: ‘हाथ में लाठी-डंडे, बच्चों के साथ मारपीट, ये हाल रहा तो हिंदुस्तान में गृह युद्ध हो जाएगा’, जोधपुर हिंसा के पीड़ितों ने बताया आंखों देखा हाल

Jodhpur Communal Clash: जालोरी गेट के बाद ईद पर जोधपुर के कबूतर चौक पर भिड़े दो समुदाय, दुकानों में लूटपाट, बच्ची को पीटा