वकील का कमाल OLA Cab Booking बेहाल || Best Hindi News 2022
Like and Share
वकील का कमाल OLA Cab Booking बेहाल || Best Hindi News 2022
418 Views

OLA Cab Booking News – Lawyer ने ओला कैब्स पर 62 रुपये ज़्यादा लेने के लिए मुकदमा ( Case )दायर किया और अब Court द्वारा मिले 15,000 रुपये- मामला जानिए विस्तार से

एक OLA Cab Booking यात्री, जो कैब Cab सेवा की चार्जिंग नीतियों से असंतुष्ट था, और कंपनी को अदालत Court में ले गया और उसे 15,000 रुपये का मुआवजा ( Compassion ) मिला। खबर मिली है कि मुंबई के रहने वाले 34 वर्षीय श्रेयंस ममानिया ने कांदिवली से ओला OLA या राइड लेकर कालाचौकी पहुंचा।  श्रेयंस एक पेशे से वकील थे जो की जून 2021 में अपने परिवार के साथ छुट्टी पर थे।

OLA Cab Booking News – ओला ऐप ( OLA APP ) पर जब उन्होंने सवारी बुक की तो किराया 372 रुपये शो कर रहा था। और जब श्रेयांस और उनका परिवार Family जब कालाचौकी पहुंचा तो उनका किराया ( Rent ) 372 रुपए से बढ़कर 434 रुपए हो गया।

श्रेयांस ने ड्राइवर ( Driver ) से पूछताछ की, और जिसमे  समझाया कि इस तरह की बढ़ोतरी बहुत आम है और श्रेयांस को इस प्रकार चिंतित नहीं होना चाहिए।

OLA Cab Booking – श्रेयंस ने जब कहा “मैंने तो 434 रुपये का भुगतान किया और फिर ओला ग्राहक सेवा से संपर्क ( Ola Customer Care Number ) करने का प्रयास किया।” फिर मुझे कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई। श्रेयांस ने मिड-डे को स्टेटमेंट दिया  और “मैंने आखिरकार कंज्यूमर फोरम से संपर्क करने का फैसला किया।”


Read Me –

Law Of War Kya Hota Hai || Best Legal information News 2022


OLA Cab Booking News – श्रेयन के परिवार ( Family ) ने उन्हें इतनी छोटी रकम के लिए इतनी लंबाई में नहीं जाने के लिए मनाने की बहुत कोशिश की, लेकिन ऐसा प्रतीत या सोच अलग होता है कि श्रेयन की लड़ाई कभी भी रूपए ,पैसे को लेकर नहीं थी, वह तो बल्कि निष्पक्ष अभ्यास और सिद्धांतों की पवित्रता को बनाए रखने के लिए थी।

आखिरकार , उपभोक्ता ने 17 अगस्त को शिकायत ( Complant ) दर्ज की व  16 दिसंबर को कार्यवाही शुरू हुई।

फोरम के फैसले ( Order ) और मामले के निष्कर्ष के परिणामस्वरूप, OLA कम्पनी ने श्रेयांस को ₹15,000, की रकम जिसमें मुआवजे के रूप में 10,000 रुपये और शिकायत ( Complant ) की लागत के रूप में 5,000 रुपये शामिल थे जिसे देने के लिए तैयार हो गया।

“कई लोग यह तर्क देंगे कि यह केवल 62 रुपये का मामला था। BUT  मैं यह सुनिश्चित करना चाहता था कि OLA कम्पनी को इसके बारे में पता है और उनके सॉफ्टवेयर में कुछ बदलाव किए गए हैं। और यह अगर यह प्रति दिन 100 ग्राहकों ( Customer ) के साथ भी होता है, तो ओएलए ( OLA Cab Booking ) से 5,000 कमाएगा।और ” इसे लड़ना चाहिए,” श्रेयांस ने फिर कहा।

यह मामला मूल रूप से 4 लाख रुपये के मुआवजे की मांग के साथ दायर ( Court Case ) किया गया था। लेकिन उपभोग्ता अदालत  ने फैसला सुनाया कि राशि अनुपात से बहुत ज़्यादा थी और मुआवजे को घटाकर कुल रकम 15,000 रुपये कर दिया।