जानिए Prashant Kishor उर्फ P.K कौन है जिनका नाम सुनते ही राजनीती गलियारों में हलचल मच जाती है | Best Political News 2022
Like and Share
 जानिए Prashant Kishor उर्फ P.K कौन है जिनका नाम सुनते ही राजनीती गलियारों में हलचल मच जाती है | Best Political News 2022
191 Views

Prashant Kishor रोहतास जिले के कोनार गाँव के हैं, लेकिन उनके पिता श्रीकांत पांडे एक डॉक्टर थे, जो बक्सर में स्थानांतरित हो गए।वहाँ, किशोर ने अपनी माध्यमिक शिक्षा पूरी की। 

कथित तौर पर स्वतंत्र रूप से काम कर रहे हैं, और भाजपा या गुजरात सरकार में किसी भी कार्यालय को पकड़े बिना, किशोर भाजपा के चुनाव-पूर्व अभियान में प्रमुख रणनीतिकारों में से एक बन गए

जानें किस प्रकार काम करती है Prashant Kishor की कंपनी आई-पैक, और कहां है हेडक्वार्टर

सियासी रणनीतिकार Prashant Kishor इन दिनों कांग्रेस नहीं ज्वाइन करने को लेकर चर्चा में बने हुए हैं. वह जब कांग्रेस ज्वाइन करने के लिए Soniya Gandhi के सामने प्रस्ताव लेकर पहुंचे

और  उसके अगले ही दिन Telangana के मुख्यमंत्री केसीआर को चुनाव लड़ाने के लिए अपनी Company की ओर से बातचीत भी कर रहे थे.

वैसे Prashant Kishor ने बंगाल चुनाव में ममता बनर्जी की जीत के बाद उन्होंने खुद को चुनावी दुनियाँ से अलग करने की घोषणा की थी. आइए जानते हैं उनकी कंपनी के बारे में

Prashant Kishor ने अपने तीन साथियों प्रतीक जैन, व ऋषिराज सिंह व  विनेश चंदेल के साथ मिलकर साल – 2013 में सिटीजन फॉर अकाउंटेबल गर्वनेंस की स्थापना की थी. और यह कंपनी बाद में चर्चित कंपनी में बदल गई, जिसका डंका पूरी India में हर ओर बज रहा है.और इसका नाम है

इंडियन पालिटिकल एक्शन कमेटी इंग्लिश में शॉर्ट नाम – आई-पैक यानी इस प्रकार का प्लेटफॉर्म जिस पर राजनीतिक योगदान के लिए खास जगह हो | और अपने देश के गर्वनेंस की भी बात की जा सके. इस कंपनी अपने कार्य के दम पर एक के बाद एक बड़ी सफलताएं अपने नाम लिखीं.


Read Me –

कोर्ट मैरिज कैसे करें (court marriage ) | Best Kanoon 2021


Prashant Kishor की आईपैक ने पहले साल – 2014 में बीजेपी पार्टी में नरेंद्र मोदी के लिए पूरा पॉलिटिकल कैंपेन संभाला, इसके लिए हर संभव राजनीतिक रणनीति व तकनीक व सोशल मीडिया का भरपूर प्रयोग देश में First Time देखा गया.

इसी समय Prashant Kishor का नाम एक बड़े राजनीतिक रणनीतिकार के तौर पर उभरा. फिर वह  मोदी व बीजेपी पार्टी से अलग हुए. फिर उन्हें दूसरी पार्टियों व  अन्य राज्यों में Work  करने के साथ सफलताएं हासिल करते देखा गया.

Prashant Kishor ( images 3 )

बिहार चुनावों में नीतीश कुमार की सफलता में वह  पीछे खड़े नजर आए. अमरिंदर की पंजाब राज्य की जीत में उनकी कंपनी व उनका नाम आया. इसी प्रकार आंध्र प्रदेश वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के जगन मोहन रेड्डी की जबरदस्त सफलता के पीछे वो राजनीतिक रणनीतिकार की भूमिका में रहे.


Read Me –मनी लॉन्ड्रिंग केस: बॉलीवुड एक्ट्रेस जैकलिन फर्नांडिस पर ED की कार्रवाई, 7.27 Cr की संपत्ति अटैच


बंगाल में ममता बनर्जी के जहाज को हिलाने के लिए बीजेपी पार्टी व कार्यकर्त्ता ने  अपना सब कुछ इस चुनाव में झोंक दिया था, उस समय Prashant Kishor बंगाल के लिए काम कर रहे थे।

Prashant Kishor के साथ कंपनी की शुरुआत करने वाले प्रतीक जैन, व ऋषिराज सिंह और विनेश चंदेल Companey के को-फाउंडर्स हैं. Prashant के बाद यही लोग आई-पैक Companey के मुख्य स्तंभ हैं.

फिलहाल Companey का हेडक्वार्टर हैदराबाद में बंजारा Hils जैसे पॉश इलाके में है. ये 4 मंजिला आफिस है. और इसमें अलग -2  फ्लोर पर अलग कामकाज होता है. इसके अलावा यह जिस State  में काम करती है, वहां भी अपना अस्थायी Office  बनाती है.